Home » Breaking » PHOTO: UAE पहुंचे पीएम मोदी, यूएई सरकार ने किया भव्य स्वागत

PHOTO: UAE पहुंचे पीएम मोदी, यूएई सरकार ने किया भव्य स्वागत

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की दो दिन की यात्रा पर आज आबूधाबी पहुँच गये, जहां उनका भव्य स्वागत किया गया।

PHOTO: UAE पहुंचे पीएम मोदी, यूएई सरकार ने किया भव्य स्वागत
PHOTO: UAE पहुंचे पीएम मोदी, यूएई सरकार ने किया भव्य स्वागत

आबूधाबी के प्रेसिडेंशियल हवाई अड्डे पर मोदी का भव्य स्वागत किया गया। यूएई के विदेश मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायेद अल नाह्यन ने उनकी अगवानी की। मोदी को तीनों सेनाओं की टुकड़ियों ने सलामी गारद पेश की। इस मौके पर भारतीय राजदूत टी पी सीताराम एवं अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

मोदी ने खलीज टाइम्स को दी गई एक भेंटवार्ता में संयुक्त अरब अमीरात को ‘मिनी इंडिया ‘ बताते हुए कहा है कि यह देश उनके दिल के करीब है और वह न केवल आतंकवाद से मुकाबले के लिए बल्कि व्यापार तथा पूंजीनिवेश के क्षेत्र में भी उसे भारत का अग्रणी साझेदार बनाना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि हमें इस बात पर गर्व है कि भारतीय समुदाय ने न केवल यूएई के विकास और प्रगति बल्कि भारत की आर्थिक प्रगति में भी योगदान किया है। भारत में जिस तरह के आर्थिक सुधार हो रहे हैं, उसे देखते हुए यूएई के लिए भारत पूंजीनिवेश का एक आकर्षक एवं सुरक्षित स्थान बन सकता है। उन्होंने कहा कि भारत चाहता है कि वह यूएई के साथ मिल कर विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में काम करे और आतंकवाद का एकजुट होकर मुकाबला करे।

भारतीय प्रधानमंत्री की यूएई की यात्रा 34 साल बाद हो रही है। इससे पहले तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी वहाँ गयीं थीं। यूएई सरकार भी प्रधानमंत्री की इस यात्रा को बहुत अहमियत दे रही है।

मोदी आबूधाबी के शाहजादे एवं यूएई की सशस्त्र सेनाओं के उप सर्वोच्च कमांडर जनरल शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नाह्यान के निमंत्रण पर यहां आये हैं। उनकी जनरल नाह्यान और यूएई के उपराष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मख्तूम से मुलाकात होगी, जो दुबई के शासक भी हैं।

प्रधानमंत्री ने अपनी यात्रा को लेकर एक वक्तव्य में कहा, ‘मैं आबूधाबी के शाहजादा वली अहद महामहिम शेख मुहम्मद बिन जायेद अल नाह्यान से व्यापक स्तर पर बातचीत करूंगा। जनरल नाह्यान के विजन और दूरदर्शिता ने संयुक्त अरब अमीरात को विकास की नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया है। मैं संयुक्त अरब अमीरात के उपराष्ट्रपति तथा प्रधानमंत्री शेख मुहम्मद बिन रशीद अल मख्तूम से भी मिलूंगा।’

उन्होंने कहा, ‘मैं अपनी यात्रा के दौरान ऊर्जा, व्यापार में सहयोग बढ़ाने का इच्छुक हूं और निवेशकों से बात करूंगा कि भारत क्यों आकर्षक निवेश स्थल है। मुझे विश्वास है कि मेरी यात्रा दोनों राष्ट्रों के लोगों के बीच संबंधों में प्रगाढ़ता लाएगी।’

मोदी का आज शाम आबूधाबी के निकट अत्याधुनिक तकनीक से निर्मित एवं पूर्ण रूप से कार्बन रहित मसदर सिटी जाने का कार्यक्रम है। प्रधानमंत्री को इस प्रदूषण रहित स्मार्ट सिटी परियोजना के बारे में प्रेजेंटेशन दिखाये जाएंगे और उनका वहाँ रियल एस्टेट कारोबारियों से संवाद होगा। शाम को वह आईसीएडी रेजिडेंशियल सिटी जाएंगे और वहां रहने वाले प्रवासी भारतीय कामगारों के स्वागत समारोह में शिरकत करेंगे।

मोदी आबूधाबी में सरकारी कार्यक्रमों के बाद कल दोपहर बाद दुबई जाएँगे जहाँ उनके दो सार्वजनिक कार्यक्रम होगें जिनमें दुबई क्रिकेट स्टेडियम में प्रवासी भारतीय समुदाय के 50 हजार लोगों की सभा शामिल है। मोदी ने भी कहा है कि वह यूएई में काम करने वाले भारतीय श्रमिक समुदाय से मिलने के प्रति बहुत उत्सुक हैं। उनके कठिन परिश्रम तथा यूएई एवं भारत के प्रति उनके योगदान की प्रशंसा करने के लिए कोई भी शब्द पर्याप्त नहीं है।

प्रवक्ता ने प्रधानमंत्री की यूएई की यात्रा को अहम बताते हुए कहा कि यूएई भारत का तीसरा सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार और सबसे अहम निवेशकों में से एक है। दोनों देशों के बीच सालाना 6० अरब डॉलर का कारोबार होता है। भारत की तेल की कुल जरूरत का नौ प्रतिशत यूएई से आता है।

उन्होंने बताया कि भारत को उम्मीद है कि देश के खजाने में 800 अरब डॉलर की राशि के निवेश की योजना बना रही यूएई की सरकार भारत में ढाँचागत परियोजनाओं में निवेश करेगी। यूएई में करीब 26 लाख प्रवासी भारतीय कामगार रहते हैं जो देश की कुल आबादी के 30 प्रतिशत के बराबर हैं। वे हर साल स्वदेश को अपनी कमाई की लगभग 13 अरब डालर की राशि भेजते हैं।

प्रधानमंत्री की यात्रा से जुड़े सूत्रों ने बताया कि मोदी का प्रयास होगा कि वह यूएई के निवेशकों को आश्वस्त करें कि भारत में उनका निवेश आसान एवं जोखिम से मुक्त होगा। इसके साथ ही सुरक्षा और आतंकवाद निरोधक सहयोग पर भी बात होने की संभावना है। सूत्रों के अनुसार इराक में इस्लामिक एस्टेट (आईएस)पर भी बात होगी।

मोदी प्रधानमंत्री बनने के बाद कल पहली बार किसी मस्जिद में कदम रखेंगे। यह आबूधाबी स्थित शाही शेख जायेद मस्जिद जाएंगे जिसे विश्व की दस सबसे बड़ी मस्जिदों में से एक माना जाता है। इस दुनिया की इस सबसे खूबसूरत मस्जिद को देश का सबसे महत्वपूर्ण वास्तुशिल्प खजाना माना जाता है।

इसकी डिजाइन और निर्माण में राजस्थानी संगमरमर पत्थर, सोना, अर्द्ध कीमती पत्थरों, क्रिस्टल और चीनी मिट्टी आदि सामग्री का इस्तेमाल हुआ है। इसमें एक 6000 वर्ग मीटर (64583 वर्ग फुट) हाथ से बना फ़ारसी कालीन है जिस पर नौ हजार लोग एक साथ बैठ कर नमाज अदा कर सकते हैं। मस्जिद में सभी जाति, धर्म और राष्ट्रीयता के आगंतुकों को प्रवेश दिया जाता है।

मोदी भारतीय समयानुसार दोपहर करीब दो बजे के दुबई पहुँचेंगे। वह शाम सात बजे भारतीय राजदूत द्वारा आयोजित स्वागत समारोह में हिस्सा लेंगे और रात नौ बजे उनका बहुप्रतीक्षित दुबई क्रिकेट स्टेडियम में प्रवासी भारतीय समाज को संबोधन होगा। इस कार्यक्रम में लगभग 50 हज़ार लोगों के शामिल होने की उम्मीद है।

Check Also

जनसम्पर्क मंत्री डॉ. मिश्र से मिले युवा पत्रकार संघ के पदाधिकारी

भोपाल :जनसम्पर्क, जल संसाधन और संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र से आज निवास पर …