Home » अध्यात्म » अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सामूहिक योग मे किया योगा

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सामूहिक योग मे किया योगा

नयी दिल्ली:अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर रविवार को भारत समेत पूरी दुनिया योग की मुद्रा में नजर आई। इस दौरान लोग हर जगह, समाज और राज्यो मे योगासन करते दिखायी दिये। राजधानी में राजपथ पर सुबह सात बजे होने वाले मुख्य आयोजन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, आयुष मंत्री श्रीपद नाइक और योग गुरु बाबा रामदेव सहित 35 हजार से अधिक लोगो ने  15 प्रमुख योग आसन किये

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सामूहिक योग मे किया योगा
International yoga day at New Delhi

श्री मोदी राजपथ पर योग कार्यक्रम शुरू होने से पहले वहां मौजूद लोगों को संबोधित किया। इस मौके पर दुनिया के कई शहरों में भी योग शिविर आयोजित होंगे। संयुक्त राष्ट्र के 193 सदस्य देशों में से 192 में लोग योग शिविरों का आयोजन किया जाएगा। यमन में गृहयुद्ध के कारण यह संभव नहीं हो पा रहा है। भारतीय दूतावासों के लिए योग पर आधारित 7000 से अधिक कॉफी टेबल बुक की प्रतियां और 19000 संदर्भ पुस्तकें भेजी गयीं हैं। छह महाद्वीपों में फैले 250 से अधिक शहरों में पहले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मनाने के लिए योग कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। भारतीय सेना के तीनों अंग भी इसमें बढ़चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और अग्रिम मोर्चों से लेकर समुद्र तक योग शिविरों का आयोजन किया गया है। तीनों सेनाओं के प्रमुख राजपथ पर योग की मुद्रा में नजर आएंगे। जहां सेना के 500 जवान दुनिया के सबसे ऊंचे रणक्षेत्र सियाचिन पर योगासन करेंगे वहीं नौसैनिक भूमध्य सागर, हिंद महासागर और प्रशांत महासागर में तैनात युद्धपोतों पर योग की मुद्रा में नजर आएंगे। वायुसेना के भी सभी अड्डों पर भी योग कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। देशभर में एनसीसी के दस हजार कैडेट भी योग कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे।

सरकार के सभी मंत्री देश-विदेश में अलग-अलग जगहों पर इन कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। गृह मंत्री राजनाथ लखनऊ में, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर मेरठ में, एम वेंकैया नायडू चेन्नई में, जगत प्रकाश नड्डा हैदराबाद में, स्मृति ईरानी शिमला में, मेनका गांधी पीलीभीत में, डी वी सदानंद गौड़ा तिरुवनंतपुरम में और मुख्तार अब्बास नकवी फरीदाबाद में योग कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया राजपथ पर होने वाले मुख्य कार्यक्रम में हिस्सा लिया।
वित्त मंत्री अरुण जेटली सैन फ्रांसिस्को में, अल्पसंख्यक मामलों की मंत्री नजमा हेपतुल्ला शिकागो में और रक्षा राज्य मंत्री राव इंद्रजीत सिंह लंदन में योग करते नजर आएंगे।

राष्ट्रीय राजधानी में राजपथ पर आम लोगों के साथ-साथ विभिन्न दलों के नेता, बॉलीवुड की कई जानीमानी हस्तियां तथा स्कूली छात्र शामिल होंगे। राजपथ पर विजय चौक से लेकर इंडिया गेट तक प्रतिभागियों के लिए योग करने की रंग बिरंगी दरियां बिछ गयी हैं।आयोजन स्थल पर जगह-जगह बड़े-बड़े एलईडी स्क्रीन लगायी गयी हैं। यह कार्यक्रम ऋग्वेद के श्लोक के साथ शुरू होगा और उसके साथ मुक्तासन, मकरासन, कपालभाति, प्राणायाम और ध्यान आसन किये जायेंगे।
राष्ट्रपति भवन में भी योग दिवस मनाया जा रहा है। कल तड़के राष्ट्रपति भवन क्लब में आयोजित योग कार्यक्रम में अधिकारी और उनके परिजन योग करेंगे। यह आयोजन मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया जा रहा है।
भारत द्वारा संयुक्त राष्ट्र में प्रस्तावित योग दिवस का 193 में से 177 देशों ने समर्थन किया था, जिनमें 47 मुस्लिम देश भी इसके समर्थन में थे। विदेशों में भारतीय मिशन इस कार्यक्रम में समन्वय कर रहे हैं।श्री मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए कहा था कि योग प्राचीन भारतीय परंपरा का अनमोल तोहफा है। यह मन और शरीर, विचार और कर्म, संयम और संतुष्टि, मनुष्य और प्रकृति के बीच तालमेल पर जोर देता है और मनुष्य के संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है।
योग को सिंधु सरस्वती घाटी सभ्यता की देन माना जाता है। यह सभ्यता ईसा से 2700 वर्ष पूर्व अस्तित्व में थी और इसमें मानवता के भौतिक और आध्यात्मिक उत्थान पर जोर दिया गया था। इस सभ्यता से संबंधित कई पुरातत्व साक्ष्यों में कई साधकों को योग साधना करते हुए दिखाया गया है।

Check Also

Narendra Modi Speech – छात्रो के साथ प्रधानमंत्री की परीक्षा पर बातचीत

Narendra Modi Speech प्रधानमंत्री श्री Narendra Modi Speech में आज परीक्षा संबंधी विषयों पर छात्रों …