Home » Hindi Samachar » डोकलाम (चीन) विवाद: भारत के रुख में बदलाव नहीं, भारतीय सेना पीछे नहीं हटेगी

डोकलाम (चीन) विवाद: भारत के रुख में बदलाव नहीं, भारतीय सेना पीछे नहीं हटेगी

डोकलाम (चीन) विवाद: भारत के रुख में बदलाव नहीं, भारतीय सेना पीछे नहीं हटेगी
डोकलाम (चीन) विवाद: भारत के रुख में बदलाव नहीं, भारतीय सेना पीछे नहीं हटेगी

डोकलाम में चीन की बार बार धमकी के बावजूद भारत अपने रुख पर कायम है। भारत का स्पष्ट मानना है कि चीन ने इस इलाके में यथास्थिति बनाए रखने की प्रतिबद्धता का उल्लंघन किया है इसलिए उसे पहले पीछे हटना होगा। भारत चाहता है कि इस इलाके से सड़क निर्माण के लिए मौजूद टीम को चीन पीछे हटाए। इसके बाद दोनों देशों की सेनाएं अपने पूर्व स्थानों पर चली जाएं। दोनों देश कूटनीतिक तरीकों से ही मामले को हल करने का प्रयास करें। गौरतलब है कि दोनों देशों की सेनाएं कुछ दूरी बनाकर आमने सामने जमी हुई हैं। चीन के सैनिकों के साथ सड़क बनाने के लिए उनकी पूरी टीम मौजूद है।

डोकलाम (चीन) विवाद: भारत के रुख में बदलाव नहीं, भारतीय सेना पीछे नहीं हटेगी

सूत्रों ने कहा कि भारत ने चीन को स्पष्ट किया है कि उसकी इस क्षेत्र में मौजूदगी इसलिए है क्योंकि यह त्रिसंगम क्षेत्र है। वर्ष 2012 में हुए समझौते के मुताबिक त्रिसंगम वाले इन इलाकों में जहां भारत और चीन के साथ तीसरा देश शामिल है कोई भी बदलाव आपसी सहमति से ही संभव है। भूटान के साथ भी चीन का इसी तरह से समझौता काफी पहले हुआ है। सीमा पर कई ऐसे क्षेत्र हैं जहां बिना आपसी सहमति के कोई भी देश कोई बदलाव नहीं कर सकता।
चीन के बोल-शी-मोदी की मुलाकात के लिए माहौल सही नहीं
भारत को उम्मीद है कि चीन के साथ उसकी कूटनीतिक पहल का असर होगा। भारत लगातार संयम बनाए रखते हुए अपने पक्ष से चीन को अवगत करा रहा है। सूत्रों ने कहा कि भारत ने इस इलाके में सैन्य विकल्प पर कोई विचार नहीं किया है। सूत्र मानते हैं कि चीन की ओर से की जा रही बयानबाजी दबाव बनाने की कार्रवाई है लेकिन भारत अपनी ओर से कोई उकसावे की कार्रवाई नहीं करेगा। भारतीय सैनिक इस इलाके में केवल अपने हितों की रक्षा के लिए मौजूद हैं।
भारत ने चीन को कूटनीतिक माध्यम  से अवगत कराया है कि धमकी भरी भाषा के बजाए दोनों देशों को तथ्यों पर बात करनी चाहिए। भारत का मानना है कि चीन आज या कल  इसे समझेगा। सूत्रों ने कहा कि भारत अपने हितों को लेकर कोई समझौता नहीं करेगा।

Check Also

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) अप्रैल 2018 तक डाक घरों में डिजिटल भुगतान उपलब्ध

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) अप्रैल 2018 तक डाक घरों में डिजिटल भुगतान उपलब्ध

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) विस्तार कार्यक्रम की प्रगति लगातार तेज बनी हुई है और …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

one + one =