Home » स्वास्थ्य » डाले आदत - रोज सुबह टहलें » रोज टहलना (वॉकिंग)- #GoodHealth #Morringwalk #PapayaLeaf

रोज टहलना (वॉकिंग)- #GoodHealth #Morringwalk #PapayaLeaf

रोज टहलना (वॉकिंग)- #GoodHealth #Morringwalk #PapayaLeaf
रोज टहलना (वॉकिंग)- #GoodHealth #Morringwalk #PapayaLeaf


अपनी व्यस्त दिनचर्या में से 15-20 मिनट  रोज निकलना होगा अपने आपको स्वस्थ और प्रदूषण मुक्त सुबह की ठंडी सुहावनी हवा में वक़्त गुजारने का जो प्रकृति ने हमें उपहारस्वरूप दी है! रोज टहलना (वॉकिंग)- #GoodHealth #Morringwalk #PapayaLeaf ।

शुरूआत में धीरे-धीरे टहलें और फिर अपना लक्ष्य बढ़ाएं। साथ ही यह भी ध्यान में रखें कि टहलने से पहले हल्का खाना जरूर खाएं। टहलने जाने से पहले या बाद में खूब सारा पेय पदार्थ लें। इससे शरीर में पानी की कमी नहीं होगी। ध्यान रखें कि खुद को बहुत ज्यादा थकने से बचें। अगर आपको छाती में दर्द या अन्य किसी तरह की तकलीफ हो रही है तो टहलना तुरंत रोक दें और डॉक्टर से बात करके ही इसे फिर से शुरू करें।

टहलने से दिल और फेफड़े स्वस्थ रहते हैं, साथ ही शरीर का वसा भी कम होता है। यही नहीं, टहलने से मांसपेशियों में ताकत बढ़ती है और हड्डियां मजबूत होती हैं। पीठ दर्द की शिकायत वाले लोगों को टहलने से राहत मिलती है और रक्त संचार बेहतर होता है। साथ ही इससे संक्रमण और उच्च-रक्तचाप का खतरा कम होता है और शरीर में अच्छे कॉलेस्ट्रॉल की मात्रा भी बढ़ती है। टहलने से दिल की बीमारियों का खतरा भी कम होता है। दरअसल टहलने के दौरान शरीर में ऑक्सीजन की मांग  बढ़ जाती है और इससे दिल की कसरत होती है जिससे  दिल का दौरा पडऩे का खतरा भी कम होता है। रोजाना आधे से एक घंटा टहलने से पेट की बीमारियां, कमर का दर्द, झुकने और उठने की दिक्कतें दूर होती हैं। यही नहीं इससे शरीर अच्छे आकार में रहती है और जल्दी थकान नहीं होती है। इससे शरीर की मुद्रा सुधारने में भी मदद मिलती है।

स्वस्थ रहने के लिए रोज टहलना जरूरी है, बनाएं नियम!

Check Also

वर्षा ऋतु में फैलने वाली संक्रामक बीमारियों से बचने सावधानी बरते

वर्षा ऋतु में दूषित जल एवं दूषित खाद्य पदार्था के उपयोग से उल्टी,दस्त, पेचिंश, हैजा,पीलिया,टाईफाइड …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

one × 3 =