Home » बिजनेस » Profitable Farming » Profitable Farming (मिर्ची की खेती) ने राकेश को बनाया लखपति

Profitable Farming (मिर्ची की खेती) ने राकेश को बनाया लखपति

Profitable Farming
Profitable Farming

शाजापुर जिले के ग्राम सुनेरा के कुषक राकेश कुमार गोठवाल मल्चिंग पद्धति से मिर्ची की खेती Profitable Farming कर लखपति बन गए हैं। कृषक गोठवाल ने मिर्ची से 1 लाख 30 हजार रूपये की अतिरिक्त कमायी की है।

राकेश कुमार गोठवाल

मै पहले परम्परागत तरीके से आलू एवं गेहूँ आदि की फसल उगाकर जीवन यापन करते थे। रबी की फसल हेतु पर्याप्त पानी नहीं होने से एवं खरपतवार की समस्या के कारण फसल उत्पादन कम होता था। इनके पास कुल 4 हेक्टेयर भूमि है। इसी बीच उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों के संपर्क में आए। विभाग से शासकीय अनुदान पर मल्चिंग एवं ड्रिप प्राप्त किया। ड्रिप पद्धति से सिंचाई की तो कम पानी में भी अच्छी फसल पैदा हुई।

मल्चिंग पद्धति

से खेती करने से खरपतवार पर भी आसानी से नियंत्रण पाया। इसके बाद इन्होंने अधिकारियों के मार्गदर्शन से मिर्ची की खेती करना प्रारंभ की। कृषक राकेश ने बताया कि उन्होंने 0.250 हेक्टेयर क्षेत्र में मिर्ची फसल लगाई। लगभग 90 क्विंटल हरी मिर्ची की पैदावार प्राप्त हुई, मिर्ची को थोक बाजार भाव में लगभग 20 रूपये प्रति किलो के हिसाब से बेचा।

Profitable Farming

इस प्रकार 0.250 हेक्टेयर से उसे लगभग 1.80 लाख रूपये आमदनी हुई। खेती का कुल खर्चा लगभग 50 हजार रूपये निकाल कर राकेश गोठवाल को एक लाख का शुद्ध मुनाफा Profitable Farming हुआ। यह मुनाफा अन्य किसी भी फसल में आज की परिस्थिति में मिलना सम्भव नहीं है।

Check Also

मोदी सरकार- 7वे वेतन आयोग की सिफारिशे संभवतः आज मंजूरी मिल सकती है

मोदी सरकार- 7वे वेतन आयोग की सिफारिशों को संभवतः आज मंजूरी मिल सकती है

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए आज एक बड़ी खबर आ सकती है। संभवतः आज मोदी सरकार …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

12 + twelve =