Home » मनोरंजन » बॉलीबुड » सलमान खान को बड़ी राहत, नहीं जाएंगे जेल, जारी रहेगी जमानत

सलमान खान को बड़ी राहत, नहीं जाएंगे जेल, जारी रहेगी जमानत

अभिनेता सलमान खान हिट एंड रन केस में जेल नहीं जाएंगे।

हिट एंड रन केस में सलमान खान को बड़ी राहत, नहीं जाएंगे जेल, जारी रहेगी जमानत

बॉम्बे हाईकोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि सलमान की जमानत जारी रहेगी। इससे पहले सेशन कोर्ट द्वारा पांच साल की सजा दिए जाने के बाद हाईकोर्ट ने सलमान को दो दिन के लिए ही अंतरिम जमानत दी थी।
हिट एंड रन केस में सलमान खान को बड़ी राहत, नहीं जाएंगे जेल, जारी रहेगी जमानत
इस बीच सुप्रीम कोर्ट ने सलमान को दी गई अंतरिम जमानत रद्द करने संबंधी याचिका को मंजूरी दे दी है। यह याचिका अखिलेश चौबे की ओर से वकील वी. मिश्रा ने गुरुवार को दायर की। अखिलेश का आरोप है कि बांबे हाईकोर्ट ने बहुत जल्दबाजी में सलमान की जमानत अर्जी पर अपना फैसला सुना दिया।

यह याचिका चीफ जस्टिस एच.एल. दत्तू की अध्यक्षता वाली पीठ को सौंपी गई। याचिकाकर्ता ने इस संबंध में दिशा-निर्देश बनाए जाने की भी मांग की। उसका कहना था कि अन्य लोगों को भी उस तरह से दो दिन की जमानत न मिल सके जैसे बांबे हाईकोर्ट से सलमान को मिल गई। इस अर्जी की सुनवाई के लिए खंडपीठ ने तारीख मुकर्रर नहीं की है। हालांकि माना जा रहा है कि अगले सप्ताह सुनवाई हो सकती है। सलमान को कोर्ट ने बुधवार को पांच साल की सजा सुनाई थी।

सलमान ने गलत नहीं किया था तो भागे क्यों
हिट एंड रन मामले में सलमान खान को पांच साल जेल की सजा सुनाने वाले सेशंस कोर्ट के जज डीडब्ल्यू देशपांडे ने विस्तृत फैसले में कहा है कि सलमान को बखूबी मालूम था कि नशे में लापरवाही से गाड़ी चलाने से किसी की जान जा सकती है। अगर सलमान ने वाकई कुछ गलत नहीं किया था तो पुलिस के पास जाने की बजाय वह घर क्यों भाग गए।

240 पृष्ठ के फैसले में जज ने कहा कि सलमान एक बड़े अभिनेता हैं और दुर्घटना में घायल लोगों की मदद के लिए काफी कुछ कर सकते थे। लेकिन उन्होंने अपनी जिम्मेदारी नहीं निभाई और अगले दिन 10.30 बजे पुलिस के समक्ष पेश हुए। अगर सलमान ने अपराध नहीं किया था तो वह लोगों से कह सकते थे कि ड्राइवर के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए।

जज देशपांडे ने कहा कि सलमान ने घायलों को अस्पताल जाकर देखने, इलाज में मदद करने या पुलिस के साथ दोबारा घटनास्थल पर पहुंचने जैसा कोई सकारात्मक कदम भी नहीं उठाया। उन्होंने यह तर्क दिया कि 13 साल के मुकदमे के आखिरी वक्त सलमान ने अपनी गवाही में खुलासा किया कि उनका ड्राइवर अशोक सिंह गाड़ी चला रहा था। बचाव पक्ष ने इससे पहले कभी ऐसा दावा नहीं किया।

गैर इरादतन हत्या के आरोप में पांच साल की सजा को जायज ठहराते हुए जज ने कहा कि सलमान अक्सर रेन बार जाते थे और अमेरिकन एक्सप्रेस बेकरी के रास्ते से गुजरते थे, जो बताता है कि उन्हें यह इल्म था कि वहां सड़क किनारे लोग सोते हैं। जज देशपांडे ने उस दलील को भी खारिज कर दिया जिसमें कहा गया था कि बायां टायर हादसे से पहले ही फट गया था। कोर्ट ने माना कि टायर कार के टकराने के बाद फटा।

Check Also

भोपाल- भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की आत्मीय स्वागत की तैयारी

आज भोपाल- भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की आत्मीय स्वागत की तैयारी करने के …