Home » शिक्षा संसाधन » CBSE रिजल्ट: 99 प्रतिशत से भी ज्यादा अंक लाकर दिल्ली की गायत्री बनीं टॉपर

CBSE रिजल्ट: 99 प्रतिशत से भी ज्यादा अंक लाकर दिल्ली की गायत्री बनीं टॉपर

सीबीएसई 12वीं बोर्ड परीक्षा में 82 प्रतिशत परीक्षार्थी पास हुए और लड़कियों ने एक बार फिर से लड़कों से बाजी मारी। परीक्षा में लड़कियों का पास प्रतिशत 87.56 रहा, जबकि लड़कों का पास प्रतिशत 77.77 दर्ज किया गया। सीबीएसई से प्राप्त जानकारी के अनुसार, 2015 की 12वीं बोर्ड परीक्षा में इस बार पास प्रतिशत पिछले वर्ष की तुलना में थोड़ा कम रहा। 2014 में 12वीं परीक्षा का कुल पास प्रतिशत 82.70 दर्ज किया गया था।
CBSE रिजल्ट: 99 प्रतिशत से भी ज्यादा अंक लाकर दिल्ली की गायत्री बनीं टॉपर
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर सीबीएसई 12वीं की परीक्षा में उत्तीर्ण हुए विद्यार्थियों को बधाई दी है और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की है।

इस साल तिरुवनंतपुरम क्षेत्र के छात्रों का पास प्रतिशत सबसे बेहतर रहा जो कि 95.41 दर्ज किया गया। साकेत स्थित न्यू ग्रीनफील्ड स्कूल की छात्रा एम गायत्री ने परीक्षा में शीर्ष स्थान हासिल किया। गायत्री को 500 अंकों में से 496 अंक हासिल हुए। इस साल 12वीं बोर्ड परीक्षा में 1040368 छात्र बैठे थे जो पिछले साल की तुलना में 1.2 प्रतिशत अधिक है।

सीबीएसई के अनुसार, छात्रों के आग्रह पर उन्हें जांची गई उत्तर पुस्तिका की छाया प्रति उपलब्ध करायी जायेगी और यह उन छात्रों को उपलब्ध करायी जायेगी जिन्होंने इसके सत्यापन के लिए आवेदन किया होगा। इसके लिए आवेदन 13 से 17 जून के बीच स्वीकार किया जायेगा। सत्यापन के लिए 27 मई से दो जून के बीच आनलाइन आवेदन किया जा सकता है। इसके लिए प्रति विषय 300 रुपया शुल्क देय होगा।

बोर्ड ने कहा कि केवल उन छात्रों को जांची गई उत्तर पुस्तिका की छाया प्रति उपलब्ध करायी जायेगी, जिन्होंने प्रत्येक पत्र में अधिकतम 10 सवालों के सत्यापन के लिए आवेदन किया होगा। बारहवीं बोर्ड परीक्षा के तहत पुन: मूल्यांकन के संबंध में उत्तर पुस्तिका अंग्रेजी कोर, अंग्रेजी इलेक्टिव (एनसीईआरटी), अंग्रेजी इलेक्टिव (सीबीएसई), हिन्दी कोर, हिन्दी इलेक्टिव, गणित, भौतिकी, रसायनशास्त्र, जीव विज्ञान, बिजनेस स्टडीज, अर्थशास्त्र, और एकाउंटेंसी विषय में उपलब्ध होगा।

पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। अगर पुन: मूल्यांकन के बाद पांच या पांच से अधिक अंकों का अंतर आता है, तब पहले जारी अंक को रद्द माना जायेगा और पुन: मूल्यांकन के बाद प्राप्त अंक को स्वीकार किया जायेगा। लेकिन, अगर एक या दो अंकों का अंतर आता है तब पूर्व के अंक ही वैध माने जायेंगे। बारहवीं बोर्ड के लिए पूरक परीक्षा 16 जुलाई 2015 को आयोजित की जायेगी।

विद्यार्थी हिन्दुस्तान की वेबसाइट http://www.livehindustan.com/edu/results/ पर भी परिणाम देख सकते हैं। साथ ही बोर्ड की साइट www.cbseresults.nic.in और www.cbse.nic.in पर परिणाम देखे जा सकते हैं। छात्र एसएमएस के जरिए भी परिणाम जान सकते हैं। सीबीएसई ने गणित के पेपर में राहत देते हुए तकनीकी तौर पर आये गलत सवाल में ग्रेस मार्क्स दिए हैं।

Check Also

CBSE 2015: 10वीं का रिजल्ट 19 या 20 मई को

नई दिल्ली: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 10वीं और 12वीं क्लास के रिजल्ट की …